क्या विदेश में प्रापर्टी लेना चाहते हैं? ... जानिए इन नियमों को!

Investment in Overseas Property (Pic: indilens)
इन्वेस्टमेंट के लिहाज से कई लोगों के सामने विदेश में प्रॉपर्टी खरीदने का ऑप्शन भी मौजूद होता है। इसके पीछे यह सोच होती है कि विदेशों में जब प्रॉपर्टी स्लोडाउन हो तब उस में इन्वेस्ट करने से अच्छा खासा रिटर्न मिल सकता है। इसके अतिरिक्त कई लोग अपने रिटायरमेंट का भी प्लान करते हैं कि वो रिटायरमेंट के समय किसी एक पर्टिकुलर कंट्री में जाकर रहेंगे। बहरहाल कारण चाहे जो हो लेकिन भारत के बाहर प्रॉपर्टी खरीदने के लिए कुछ एक बातों को आप को ध्यान में रखना चाहिए।

सच बात तो यह है कि अलग-अलग देशों में संपत्ति खरीदने की प्रक्रिया अलग अलग होती है। अगर हम सिंगापुर (Flats In Singapore) की बात करें तो वहां आप फ्लैट या घर तो ले सकते हैं लेकिन लैंड नहीं खरीद सकते। इसी प्रकार दुबई में अपार्टमेंट (Apartment In Dubai) खरीद सकते हैं जो लीज होल्ड होती हैं। ऐसे ही थाईलैंड में आप मकान पट्टे पर ले सकते हैं। 

इसी प्रकार अलग-अलग देशों में आपको संपत्ति लेने के लिए कुछ नियमों का अवश्य ही ध्यान रखना चाहिए।

इसमें उन देशों से संबंधित आवश्यक रूल पर अवश्य ही विचार करें। यहाँ प्रॉपर्टी से सम्बंधित शुल्कों में कानूनी शुल्क, बीमा मेंटेनेंस, ब्रोकरेज इत्यादि शामिल किए जा सकते हैं। इसके लिए आपको किसी रेपुटेड कंपनी के ब्रोकर (Broker) से संपर्क करना चाहिए और उस देश के संबंधित कानूनों का अध्ययन करना चाहिए। यह बात अवश्य ही पता करें कि अगर आप उस देश में प्रॉपर्टी खरीदते हैं और बाद में उसे बेचकर वहाँ से निकलना चाहते हैं तो उसके क्या ऑप्शन हैं?

अगर आप निवेश के लिहाज से विदेश में कोई प्रॉपर्टी खरीदते हैं, किंतु पसंद ना आने अथवा स्विच करने की स्थिति में अगर आप वहां से निकलना चाहते हैं तो इसका रास्ता आपको पता होना चाहिए।
Looking For Business (Pic: lynda)
एक बात और ध्यान रखने वाली है कि विदेशों में संपत्ति (Property In Foreign Countries) लेने के लिए आपको टैक्सेशन का शॉर्टकट नहीं लेना चाहिए और बिल्कुल सीधे रास्ते से जाना चाहिए। आखिर बाहर के देशों में आपको भारत जैसी सहूलियत नहीं मिल सकती है और एक बार अगर आप ब्लैक लिस्ट हो जाते हैं तो आपको वहां अच्छी खासी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

इसलिए कर (Tax) से संबंधित जो भी जटिलताएं हो उन्हें पूरी तरह समझना और कर का भुगतान करना बेहद आवश्यक है।

मिथिलेश कुमार सिंह


Web Title: Want to Buy Property Outside India Hindi Article